Thursday , June 4 2020

WORLD's FASTEST GROWING POSITIVE NEWS PORTAL

Latest
Home / National / Chhattisgarh / स्वच्छता की शुरूआत अपने घर और गलियों से करनी होगी.. महापौर

स्वच्छता की शुरूआत अपने घर और गलियों से करनी होगी.. महापौर

स्वच्छता की शुरूआत अपने घर और गलियों से करनी होगी.. महापौर

बाहरी स्वच्छता के साथ ही आन्तरिक स्वच्छता भी जरूरी – क्षेत्रीय निदेशिका ब्रह्माकुमारी कमला दीदी

शान्ति सरोवर में नवनिर्वाचित महापौर एवं पार्षदों का हुआ सम्मान 

रायपुर, ०९ फरवरी, २०२०: महापौर एजाज ढेबर ने कहा कि स्वच्छता की शुरूआत अपने घर और गलियों से करनी होगी। हम लोग अधिकारों की मांग करते हैं किन्तु अपने कर्तव्य को भूल जाते हैं। जिस दिन कर्तव्य को याद रखना शुरू कर देंगे, उस दिन शहर स्वत: ही स्वच्छ और सुन्दर बन जाएगा।
श्री एजाज ढेबर आज प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के राजनीतिक सेवा प्रभाग द्वारा विधानसभा रोड पर स्थित शान्ति सरोवर में नवनिर्वाचित महापौर एवं पार्षदों के लिए आयोजित सम्मान समारोह में बोल रहे थे। विषय था- शहर को स्वच्छ और सुन्दर बनाने में मेरी प्राथमिकताएं।
उन्होंने कहा कि स्वच्छता पर काम करना उन्हें बेहद पसन्द है। उन्होंने पार्षद के रूप में मिले स्वच्छता अवार्ड को याद करते हुए बतलाया कि उनके वार्ड में एक हनुमान नगर था जहाँ पर काफी गन्दगी पसरी रहती थी। कुछ लोगों ने सुझाव दिया कि कचरा फेकने वालों पर फाईन लगा देते हैं किन्तु हमने कचरा फेकने वालों को गुलाब का फूल देना शुरू कर दिया। धीरे-धीरे शर्म के मारे लोगों ने कचरा फेंकना बन्द कर दिया। आज वह सबसे साफ मोहल्ला बन चुका है।


महापौर ने सभी पार्षदों से आग्रह किया कि सवेरे सबसे पहले वार्ड का एक चक्कर लगाकर सफाई कार्य देख लिया करें। इससे उनके वार्ड को साफ रखने में सहयोग मिल जाएगा। उन्होंने बतलाया कि शहर में स्वच्छता के लिए एक टेलीफोन नं. चालू किया है। टेलीफोन आते ही दो घण्टे में सफाई का हमारा वायदा है। अभी नहीं कर पा रहे हैं परन्तु शीघ्र ही हम उसे ठीक कर लेंगे।

बाहरी स्वच्छता के साथ ही आन्तरिक स्वच्छता भी जरूरी…
क्षेत्रीय निदेशिका ब्रह्माकुमारी कमला दीदी ने कहा कि शहर को साफ रखने के लिए सबसे पहले मन की स्वच्छता जरूरी है। मन में उत्पन्न घृणा, नफरत, ईर्ष्या , द्वेष आदि विचार मानसिक प्रदूषण फैलाते हैं। शहर को साफ रखने के लिए लोगों में जन जागृति लाने की जरूरत है। उन्होंने बाद में पार्षदों को राजयोग मेडिटेशन की अनुभूति भी कराई।

जगह जगह स्वच्छता के स्लोगन्स लगाकर लोगों को जागरूक करना होगा…
राजयोग शिक्षिका ब्रह्माकुमारी दीक्षा दीदी ने कहा कि जब हम लोगों की आलोचना करते हैं तो वायुमण्डल में नकारात्मकता फैलती है। यह स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं है। स्वच्छता के लिए स्वयं पहल करनी होगी। कोई करे न करें हम सफाई पर ध्यान दें।
इस दौरान बाल कलाकार कु. मनिषा, तमन्ना, देवोनीता और सम्पदा द्वारा बहुत ही सुन्दर स्वागत नृत्य प्रस्तुत किया गया तथा कुमारी शारदा नाथ ने सुमधुर स्वागत गीत गाकर सभी को भाव विभोर कर दिया।

http://raipur.bk.ooo/

ब्रह्मा बाबा ने नारी शक्ति को आगे कर महिला सशक्तिकरण का कार्य किया

Check Also

मोदी जी का देश के नाम चौथे संबोधन की मुख्य बातें

मोदी जी का देश के नाम चौथे संबोधन की मुख्य बातें Newsanant:- भारत के प्रधान …

Leave a Reply