Thursday , June 4 2020

WORLD's FASTEST GROWING POSITIVE NEWS PORTAL

Latest
Home / Education /  जीवन में हर व्यक्ति को हर दिन 24 घंटे मिलते हैं- बी के निकिता

 जीवन में हर व्यक्ति को हर दिन 24 घंटे मिलते हैं- बी के निकिता

जीवन में हर व्यक्ति को हर दिन 24 घंटे मिलते हैं- बी के निकिता

जादू मेरी सोच – Magic Power of  My Thoughts   सेशन

भिलाई :- पीस ऑडिटोरियम :- बीता हुआ समय वापस नहीं आता। ना ही समय किसी का इंतजार करता है। न्यू ईयर स्टार्ट होकर एक महीना बीत गया है। हम प्लानिंग तो बहुत करते हैं पर सही टाइम मैनेजमेंट ना होने के कारण समय रेत की तरह फिसल जाता है, और सब अधूरा रह जाता है|

यह बाते प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय एवं राजयोगा एजुकेशन एंड रिसर्च फाउंडेशन द्वारा चलाए जा रहे अद्वितीय प्रोजेक्ट जादू मेरी सोच – Magic Power of  My Thoughts  के  सेशन में  ब्रम्हाकुमारी निकिता दीदी ने भिलाई सेक्टर-7,सड़क -2 स्थित  पीस ऑडिटोरियम में कही।

 जीवन में हर व्यक्ति को हर दिन 24 घंटे मिलते हैं…

ब्रम्हाकुमारी निकिता दीदी ने  टाइम वैल्यू और एकाग्रता के बारे में बताते हुए कहा की  जीवन में हर व्यक्ति को हर दिन 24 घंटे मिलते हैं। किसी को सारा दिन मेहनत करके भी टाइम कम मिलता है और कोई 24 घंटे सफल कर  सक्सेसफुल बन जाता है|

महात्मा गांधी जी समय के पाबंद थे….

जैसे महात्मा गांधी जी समय के इतने पाबंद थे कि उनके दैनिक कार्यों को देख कर कोई भी अपनी घड़ी मिला सकता था।

यदि हम हमेशा कहते हैं हम व्यस्त हैं। व्यस्त हैं इसका मतलब हम व्यस्त नहीं है। हमारा जीवन ही अस्त-व्यस्त है। आज समय के महत्व को नहीं समझा तो आने वाले समय में बहुत परेशानी होगी|

हमें  रोज 86400 सेकंड मिलते हैं….

हमें  रोज 86400 सेकंड मिलते हैं जो सही तरह से यूज़ ना करने पर रात्रि  12:00 बजे  खत्म हो जाते हैं और अगले दिन  86400 पुनः मिलते हैं। वह भी सही इस्तेमाल न करने पर व्यर्थ-वेस्ट हो जाते हैं जिसमें हमारा ही नुकसान है।

टाइम मैनेजमेंट क्यों जरूरी है ?

1st हमें कड़ी मेहनत करने के लिए प्रेरित करता है|  2nd    हमारा टाइम वेस्ट होने से बचता है| 3rd   हम जिम्मेदारी से बेहतर निर्णय ले पाते है |  4th हमें टेंशन फ्री रखता है|   5th   बड़ों से अपने सिन्सियर  और हार्ड वर्क के लिए appreciation दिलाता है |                                                                                 

 एक समय पर दो काम कर सकते  है |

जैसे पढ़ते-पढ़ते फ्रूट खा लिया या खेलते खेलते  आंसर रिवाइज कर लिया।                                                    

  स्वयं को नेगेटिव, व्यर्थ वेस्ट, अनावश्यक बातों से दूर रखे ……    

पढ़ाई के लिए बहुत बहुत आवश्यक है की हम स्वयं को नेगेटिव, व्यर्थ वेस्ट, अनावश्यक बातों से दूर रखे | हमें सिर्फ सकारात्मक- पॉजिटिव बातें ही करनी है, सोचनी है और ऐसे ही लोगों का संग करना है|  जितना हो सके सोशल मीडिया से दूर रहना है। खासकर एग्जाम के समय। अपने रोज के स्कूल, ट्यूशन होमवर्क भागदौड़ के बीच थोड़ा ब्रेक जरूर ले। 6 से 8 घंटे की नींद ले। बैलेंस डाइट एनर्जेटिक रखना  है। इससे एकाग्रता – concentration पढ़ाई के प्रति बढ़ता है ध्यान ,फोकस केंद्रित होता है पढ़ाई पर | सभी स्टूडेंट्स को  फॉर ए वीक के लिए टाइम मनेजमेंट का होमवर्क दिया गया। सभी को राजयोग मेडिटेशन का अभ्यास कराया गया |

      http://www.newsanant.com/magic-power-of-my-thoughts/

https://www.youtube.com/watch?v=frvjJsf8Wqg

Check Also

सोने की चिड़िया-विश्व गुरु भारत,आज हिंसा-अशांति से घिरा हुआ है

भिलाई,12-3-20:-  प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय द्वारा सेक्टर 7 ,पीस ऑडिटोरियम में होली स्नेह मिलन …

Leave a Reply