Thursday , May 28 2020

WORLD's FASTEST GROWING POSITIVE NEWS PORTAL

Latest
Home / National / Chhattisgarh / दादी जानकी का विमान तल पर हुआ स्वागत

दादी जानकी का विमान तल पर हुआ स्वागत

रायपुर, १९ दिसम्बर: प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी जानकी का आज नगर आगमन हुआ। विमानतल पर ब्रह्माकुमारी संस्थान के सदस्यों ने जोरदार स्वागत किया। विश्व के किसी भी अन्तर्राष्ट्रीय संगठन की सबसे वरिष्ठतम मुख्य प्रशासिका १०३ वर्षीय दादी जी एयर टैक्सी से माउण्ट आबू से आयी थीं। उनके साथ उनका स्टाफ भी आया।

विमानतल पर इन्दौर जोन की क्षेत्रीय निदेशिका ब्रह्माकुमारी कमला दीदी, मुख्य क्षेत्रीय समन्वयक ब्रह्माकुमारी हेमलता दीदी, प्रयागराज सेवाकेन्द्र की निदेशिका ब्रह्माकुमारी मनोरमा दीदी, ज्ञानामृत के सम्पादक ब्रह्माकुमार आत्मप्रकाश और ब्रह्माकुमारी संस्थान के कार्यकारी सचिव ब्रह्माकुमार मृत्युजंय ने उनकी अगुवानी की। इस अवसर पर बहुत बड़ी संख्या में नगर के गणमान्य नागरिक भी उपस्थित थे। बाद में मोटर साइकिल और कार की रैली के रूप में दादी जानकी को एरोड्रम से राजयोगिनी दादी जानकी जी का आज रायपुर में आगमन हुआ। तथा दादीजी ने  नया रायपुर स्थित नवनिर्मित शांति शिखर सेवाकेंद्र का उदघाटन किया। इसके बाद दादी जी रायपुर स्थित शांति सरोवर परिसर में पधारी।विधानसभा रोड पर स्थित शान्ति सरोवर रिट्रीट सेन्टर में लेकर गए। जहाँ पर दादी जानकी को ठहराया गया है।
उल्लेखनीय है कि दादी जानकी आज शाम को ५ बजे को इन्डोर स्टेडियम में आयोजित सर्व मंगल आध्यात्मिक महाकुम्भ में अपना व्याख्यान देंगी। कार्यक्रम में दादी जी के साथ मुख्यमंत्री और राज्यपाल सहित विधानसभा अध्यक्ष भी उपस्थित रहेंगे।

दादी जानकी एक आध्यात्मिक व्यक्तित्व ही नहीं हैं, वरन् उनकी गणना विश्व के उन दस प्रमुख बुद्घिजीवियों (Keepers of Wisdom) में होती है, जिन्हें वर्ष १९९२ में रियो-डि-जेनरियो में सम्पन्न प्रथम पृथ्वी महासम्मेलन में विश्व नेताओं का मार्गदर्शन करने के लिए संयुक्त राष्ट्र द्वारा मनोनीत किया गया था।
ब्रह्माकुमारी संस्थान की संस्थापक सदस्यों में से एक १०३ वर्षीय जानकी दादी वर्तमान समय विश्व की किसी भी अन्तर्राष्ट्रीय संगठन की सबसे वरिष्ठतम मुख्य प्रशासिका है। दादी जी ने अपनी योग की उपलब्धियों से दुनिया के वैज्ञानिकों को आश्चर्य चकित कर दिया है। आस्ट्रेलिया की युनिवर्सिटी ऑफ मेलबोर्न, अमेरिका की युनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास, सेनफ्रान्सिस्को की युनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया जैसी प्रख्यात संस्थाओं ने वैज्ञानिक परीक्षण में देखा कि परस्पर वार्तालाप करते हुए तथा गणितीय प्रश्नों का समाधान करते हुए भी दादी जी के मस्तिष्क से डेल्टा तरंगें ही प्रवाहित होती हैं। जबकि सामान्यत: गहन विश्राम अथवा निद्रा की अवस्था में ही डेल्टा तरंगे (सबसे धीमी तरंगे Slowest Brain Waves) निकलती हैं। इस प्रकार का परीक्षण वैज्ञानिकों ने विभिन्न योगियों के साथ किया किन्तु कहीं पर भी ऐसा अद्भुत परिणाम देखने को नहीं मिला। फलस्वरूप वैज्ञानिकों ने उन्हें सर्वाधिक स्थिर चित्त (Most Stable Mind in the World)  महिला घोषित किया है।

आपकी व्यापक लोकप्रियता को देखते हुए भारत शासन ने आपको स्वच्छ भारत अभियान का ब्राण्ड एम्बेसेडर घोषित किया है।

आध्यात्मिक महाकुम्भ का १४० देशों में सीधा प्रसारण होगा-
ब्रह्माकुमार आत्मप्रकाश ने आगे कहा कि सर्व मंगल आध्यात्मिक महाकुम्भ का सीधा प्रसारण १४० देशों में एक साथ फ्री टू एयर (डी.टी.एच.)- पीस ऑफ माइण्ड चैनल पर किया जाएगा।( TATA SKY – 1065 , AIRTEL – 678 , VIDEOCON D2H -497, DISH TV-1087 & All Cable TV Network )
छत्तीसगढ़ शासन ने राज्य अतिथि (स्टेट गेस्ट) घोषित किया-
प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की मुख्य प्रशासिका दादी जानकी के रायपुर प्रवास के दौरान उनको राज्य शासन ने राज्य अतिथि (स्टेट गेस्ट) घोषित किया है।

 

Check Also

छ.ग. ब्रायलर फार्मर्स एसोसिएशन ने पशु पालन मंत्री को ज्ञापन दे समस्याओं से अवगत कराया।

छ.ग. ब्रायलर फार्मर्स एसोसिएशन ने पशु पालन मंत्री रविंद्र चौबे और मुख्यमंत्री को पोल्ट्री व्यवसाय …

Leave a Reply